Sunday, 20 August 2017

टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक दो बार बनाने का रिकॉर्ड है इन खिलाड़ियों के नाम

आज हम बात करेगें उन खिलाड़ियों की जिन्होंने टेस्ट मैच में अपने नाम दो बार तिहरा शतक बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है। जहाँ एक और तिहरा शतक अपने आप में ही एक कीर्तिमान है वही इन चार खिलाड़ियों ने ये कारनामा 2 बार करने में कामयाब रहे है।
 अगर मैचों के अनुसार आंकलन की जाये तो पहले पायदान पे हैं ब्रेडमैन 
ब्रैडमैन ने अपने खेली गयी कुल 52 मैचों में दो तिहरा शतक लगाया था। वही अगर इनके रन के आंकड़ों पे नज़र डालें तो इन्होने कुल 52 टेस्ट मैचों में 6996 रन बनाये जिसमें इनका सर्वाधिक स्कोर 334 का रहा है अपने टेस्ट करियर में इन्होने कुल 29 शतक तथा 13 अर्धशतक अपने नाम किये हैं।
दूसरे पायदान पे हैं क्रिस गेल जिन्होंने 103 टेस्ट मैच में दो बार 300 का आंकड़ा पार किया है 
वेस्टइंडीज के बाये हाथ के शानदार बल्लेबाज़ ने खेले गए कुल 103 टेस्ट मैचों में दो बार तिहरा शतक बनाये है,इनका सर्वाधिक स्कोर 333 रनो का रहा है।क्रिस गेल ने श्रीलंका के विरुद्ध 333 रन तथा साउथ अफ्रीका के विरुद्ध 317 रनो की पारी खेली थी। वही इनके बैटिंग की बात की जाये तो टेस्ट करियर में इन्होने 7214 रन बनाये जिसमें इन्होने 15 शतक और 37 अर्धशतक शामिल थे
तीसरे पायदान पे हैं भारत की पूर्व बल्लेबाज़ वीरेंद्र सेहवाग 
सेहवाग ने खेले गए कुल 104 टेस्ट मैचों में दो बार तिहरा शतक बनाये जिसमें से उन्होंने पाकिस्तान की विरुद्ध मुल्तान में 334 रनो की पारी खेली और साउथ अफ्रीका के विरुद्ध 319 रनो की पारी खेली थी। अगर उनके टेस्ट करियर पे एक नज़र डाले तो उन्होंने खेले गए कुल 104 मैचों में शानदार 8586 रन बनाया। उन्होंने अपने टेस्ट करियर में 23 शतक तथा 32 अर्धशतक बनाये हैं।
लारा ने अपने टेस्ट करियर में खेले गये 131 में कुल दो बार तिहरा शतक बनाया उन्होंने इंग्लैंड के विरुद्ध 375 तथा 400 रन बनाये ,वही ये एक मात्र बल्लेबाज़ हैं जिन्होंने दो बार 350 से ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं।लारा ने 131 मैचों में 11953 रन बनाये हैं। लारा ने 34 शतक तथा 48 अर्धशतक बनाये हैं। 
अभी तक टेस्ट इतिहास में केवल यही चार खिलाड़ी हैं जिन्होंने तिहरा शतक दो बार बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है।
Share This
Previous Post
Next Post

I am a sports blogger . Love Cricket and Records , So stay updated with the Match and records .

0 comments: